स्टैच्यू ऑफ यूनिटी: दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा के बारे में जानें 10 खास बातें

दुनिया में सबसे ऊँची प्रतिमा वाला देश अब भारत कहलायेगा | सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) का निर्माण अक्टूबर 2018 में समाप्त हो गया है जोकि दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा है | इससे पहले यह ख़िताब चीन में स्प्रिंग टेंपल में बुद्ध की मूर्ति थी, जिसकी ऊंचाई 153 मीटर है |

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) का निर्माण गुजरात में नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध से 3.5 किलोमीटर की दूरी पर हुआ है | यह प्रतिमा राष्ट्रीय गौरव और एकता की प्रतीक है | 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) का उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 अक्टूबर को उनकी जयंती पर करेंगे |

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी: दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा के बारे में जानें 10 खास बातें

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) की 10 खास बातें:

  1. 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity)  दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा है जिसकी ऊंचाई न्यूयॉर्क में स्थित स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से लगभग दोगुनी ऊंची है | स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी 93 मीटर ऊँची है, जबकि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की ऊंचाई 182 मीटर है |
  2. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी 182 मीटर ऊँची है, यह प्रतिमा एक अजूबा से कम नहीं है | इस प्रतिमा की पैर की ऊंचाई 0 फिट, हाथ की ऊंचाई 70 फिट, कंधे की ऊंचाई 140 फिट और चेहरे की ऊंचाई 70 फिट है | इसका कुल वजन 1700 टन है |
  3. चीन की स्प्रिंग टेंपल की 153 मीटर ऊंची बुद्ध प्रतिमा अब तक दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा थी, लेकिन अब स्टैच्यू ऑफ यूनिटी ने इसका रिकॉर्ड तोड़कर यह दुनिया की सबसे ऊँची बन गयी है | जिसकी ऊंचाई 182 मीटर है |
  4. इस प्रतिमा का निर्माण राम वी. सुतार के देखरेख में हुआ है | राम वी. सुतार भारत के ही नहीं बल्कि दुनिया के बहुत बड़े शिल्प कलाकार है |
  5. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की शुरुआत 31 अक्तूबर, 2013 को पटेल की 138 वीं वर्षगांठ के मौके पर हुई थी |
  6. सरदार पटेल की इस मूर्ति को बनाने में करीब 2,989 करोड़ रुपये की लागत आयी है | इस पूरी प्रतिमा का निर्माण भारत में ही हुआ है, केवल कांसे की परत चढ़ाने के  आशिंक कार्य बाहर से हुआ है |
  7. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी 33 माह में ही बन के तैयार हो गयी जबकि यह सबसे काम समय में इतनी विशाल प्रतिमा बनाने का भी विश्व रिकॉर्ड है | जबकि चीन की ग टेंपल के बुद्ध की मूर्ति के निर्माण में 11 साल का लम्बा समय लगा था |
  8. सरदार पटेल की इस मूर्ति का निर्माण भारत की कंस्ट्रक्शन की मल्टीनेशनल कंपनी एल एंड टी के द्वारा हुआ है|
  9. इस प्रतिमा का भव्य उद्घाटन 31 अक्टूबर को नरेंद्र मोदी के द्वारा होगा |
  10. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' का निर्माण नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध से 3.5 किलोमीटर की दूरी पर किया गया है|

No comments: